बिग बॉस का घर ऐसा है जहाँ कब क्या हो जाए कोई नहीं बता सकता। कई बार यहाँ लोगों को हिंसा करने पर घर से बाहर कर दिया जाता है। लेकिन इस सीज़न में सिद्धार्थ के बार-बार ऐसा करने पर भी बिग बॉस की ओर से उन पर कोई कार्रवाही नहीं की जाती है। वहीं सलमान भी उनके फ़ेवर में ही नज़र आते हैं भले ही वो कुछ एक बार उनसे नाराज़ हुए हैं और उन्हें अपना ग़ुस्सा कंट्रोल करने की सीख शो के शुरुआत से देते आए हैं।

बहरहाल इस हफ़्ते बिग बॉस में सिद्धार्थ को निर्विवाद रूप से घर का कैप्टैन चुना गया और उसके बाद उन्होंने जिस तरह का डिसीजन लिया तो घर के सभी लोग उनसे नाराज़ नज़र आए। यहाँ तक कि घर में उनके विरोध में भी आवाज़ उठने लगी थी। सभी ने कहा कि सिद्धार्थ न सिर्फ़ लोगों से रूडली बात करते हैं बल्कि वो बहुत घमण्डी भी हैं और एक तानाशाह की तरह सिर्फ़ अपनी चलाना चाहते हैं। बहरहाल इन बातों से भी सिद्धार्थ के व्यवहार में कोई परिवर्तन आता नज़र नहीं आया बल्कि बिग बॉस ने उन्हें ज़रूर ज़्यादा अधिकार दिए जैसे कि घर से बेघर करने का अधिकार सिर्फ़ उन्हें दिया गया।

घर के लोग अक्सर सिद्धार्थ को मिलने वाले फ़ेवर के बारे में बात करते नज़र आए हैं। अब ख़बरें हैं कि सिद्धार्थ को बिग बॉस के घर को अलविदा कहना पड़ा है वो भी बिना नोमिनेशन के और शनिवार आने से पहले, ऐसा इसलिए हुआ है क्योंकि सिद्धार्थ की तबियत बिगड़ गयी है। बता दें कि सिद्धार्थ को टायफ़ाइड होने के कारण बिग बॉस के घर को अलविदा कहना पड़ा है और अब वो शायद तबियत ठीक होने के बाद घर वापस आएँ लेकिन तब तक गेम में किस तरह बदलाव होता है ये देखना दिलचस्प होगा। वहीं शो में अब एक और वाइल्ड कार्ड एंट्री होने वाली है ये सदस्य हैं पिछले सीज़न के कंटेस्टेंट मास्टरमाइंड विकास गुप्ता। सिद्धार्थ शुक्ला की एग्ज़िट और विकास गुप्ता की एंट्री से शो में क्या बदलाव होते हैं ये देखने वाली बात होगी। बिग बॉस से जुड़ी ज़्यादा ख़बरों के लिए जुड़े रहिए चुग़लीबाज़ के साथ।