हाल ही में तापसी पन्नू की फ़िल्म थ’प्पड़ री’लिज़ हुई जिसे काफ़ी प्र’शंसा मिली। इस फ़िल्म में एक पत्नी के आत्म स’म्मान की बात की गयी है और ये बताने की कोशिश की गयी है कि थ’प्पड़ एक आम बात नहीं है बल्कि ये भी हिं’सा का ही रूप है। तापसी के अभिनय को इस फ़िल्म में काफ़ी तारीफ़ मिल रही है। वहीं बॉलीवुड कोरियोग्राफ़र अह’मद ख़ा’न ने इस फ़िल्म को देखने के बाद ट्वीट किया कि एक पत्नी अपने पति को इसलिए छो’ड़ देती है क्योंकि उसने उसे थ’प्पड़ मा’रा था, ये बात ह’ज़म नहीं हुई।

अहमद ख़ान ने कहा कि वो ये नहीं कहते कि थ’प्पड़ मा’रना आम होना चाहिए लेकिन उनका कहना है कि अगर पति ने पत्नी को थ’प्पड़ मा’रा है तो पत्नी भी उसे दो थ’प्पड़ लगा सकती है उसके बाद अगर पति कहता है कि वो पत्नी से अ’लग होना चाहता है तो उस वक़्त बात अ’लग सी हो जाती है। तापसी तो हर ट्रो’ल का भी जवाब देती हैं। ये मैसेज पढ़ने के बाद उन्होंने भी जवाब दिया और लिखा कि हर एक का अपना एक नज़’रिया होता है। वो अपनी तरह की फ़िल्म बनाते हैं और हम अपनी तरह की।


Tapsee Pannu
आगे तापसी ने कहा कि हमने हमेशा ऐसे रिले’शन देखें हैं जिनमें प्यार और इ’ज़्ज़त होती है लेकिन अगर वो (अह’मद) ऐसी बात कर रहे हैं तो यहाँ दूसरे तरह का रिले’शन भी हो सकता है। बेहतर है कि वो अपनी तरह की फ़िल्म बनाते रहें और हम हमारी तरह की, हमें जिस बात पर यक़ीन है हम वो काम करते रहें। आगे तापसी ने ये भी लिखा कि हमने जो फ़िल्म बनायी वो लोगों के दिलों तक पहुँची ये बात सा’बित हो चुकी है लोगों ने इस फ़िल्म को हाथों हाथ लिया है और इसकी ता’रीफ़ भी की है। हमारे लिए इससे ब’ढ़कर और क्या बात होगी कि लोग इस मु’द्दे से जु’ड़ रहे हैं और जु’ड़ना चाहते हैं।

तापसी पन्नू ने साउथ की फ़िल्मों में काम करते हुए बॉलीवुड फ़िल्मों की ओर रू’ख किया और पिंक, बेबी जैसी फ़िल्मों से अपनी एक अलग पहचान बनाने में कामयाब रहीं। उनकी फ़िल्में उनके व्यक्तित्व को द’र्शाती हैं हाल ही में आयी साँ’ड़ की आँ’ख फ़िल्म में भी वो एक द’मदार रोल नि’भाती दिखीं और अब थ’प्पड़ में उनके अभिनय की सराहना हो रही है। तापसी की आने वाली फ़िल्में हैं हसीन दिलरुबा, लू’प ल’पेटा और मिथु जिसमें वो महिला क्रिकेटर मिथाली राज का किरदार निभाने वाली हैं।