मुम्बई: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की बहुप्रतीक्षित फ़िल्म ‘दिल बेचारा’ रिलीज़ हो गई है. इस फ़िल्म ने अपने पहले ही दिन कई रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. डिज़नी हॉटस्टार पर रिलीज़ होने के बाद इस फ़िल्म को दर्शकों ने बेहद सराहा. अपने चहेते सितारे को अंतिम फ़िल्म में देखने के लिए लोग उत्साहित भी दिखे और ग़म-गीन भी रहे. इस फ़िल्म में सुशांत के साथ संजना सांघी हैं. फ़िल्म में एक छोटा लेकिन अहम् रोल सैफ़ अली ख़ान ने भी निभाया है.

बतौर लीड अभिनेत्री अपनी पहली फ़िल्म को लेकर अलग से अनुभव को साझा करते हुए संजना सांघी ने कई अहम् बातें लिखी. संजना ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखी जिसमें उन्होंने लिखा वह सुशांत के लिए ‘था’ नहीं यूज कर पा रहीं क्योंकि वह उन सबके साथ अभी भी हैं. सांघी ने इसके अलावा फ़िल्म फ़ेयर को दिए इंटरव्यू में कई अहम् बातें लोगों से साझा कीं.

Dil Bechara[/caption]

संजना ने बताया कि मुझसे कई लोग इस बारे में पूछ चुके हैं. मैं बहुत हिम्मत करके उनके बारे में बात कर पा रही हूं. उन्होंने सुशांत की मौ’त वाले दिन को याद करते हुए कहा कि वो दिन एक भयानक सन्डे की तरह था. उन्होंने कहा कि उनकी ज़िन्दगी में बहुत से दोस्त रहे लेकिन उन्होंने किसी दोस्त की मौ’त इसके पहले नहीं देखी थी.. ये बहुत ही ख़राब चीज़ थी. सांघी ने कहा कि सुशांत के साथ काम करके वो बहुत कम्फ़र्टेबल थीं.

संजना कहती हैं कि अब ‘दिल बेचारा’ फ़िल्म से जुड़ी चीज़ें ही काफ़ी अजीब लगती हैं. फ़िल्म में एक कैंसर पेशंट का किरदार निभाने वाले अभिनेत्री ने कहा कि फ़िल्म का गाना ‘तारे गिन.. मज़ा है या सज़ा है ये..’ का मतलब अब बिलकुल बदल गया है. रील लाइफ और रियल लाइफ कितनी एक जैसी हो गई. ये बहुत अजीब है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *