सुशांत आ’त्मह’त्या मामला ख़’त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है इस मामले से जुड़ी इतनी बातें हैं कि रोज़ाना कोई न कोई बात सामने आती है। यही नहीं इस मामले में कई पक्ष भी हैं। पहले सुशांत के पिता और उनकी बहनों ने सुशांत की गर्लफ़्रेंड रिया पर इल्ज़ा’म लगाया कि उन्होंने ही सुशांत को आ’त्मह’त्या के लिए उक’साया और इसके कुछ दिनों बाद सुशांत के परिवार ने उनकी आ’त्मह’त्या को ह’त्या का नाम दिया। इस मामले की CBI जाँ’च भी हुई और दुबारा पो’स्टमा’र्टम रेपोर्ट भी बनायी गयी लेकिन आ’ख़िरकार मामला आ’त्मह’त्या का ही सा’बित हुआ।

इस जाँ’च प’ड़ताल में ये बात सामने आयी कि न सिर्फ़ रिया बल्कि सुशांत और उनके कई दोस्त ड्र’ग्स का से’वन किया करते थे। यहाँ तक कि रिया और उनके भाई शौविक को इस मामले में हिरा’सत में भी लिया गया। कुछ दिन जे’ल में बि’ताने के बाद बाहर आयी रिया ने अपने ख़िला’फ़ ग़लत ब’यानी करने वाले लोगों पर क़ा’नूनी शिकं’जा क’सना शुरू किया है। इस मामले में ही रिया ने सुशांत की बहनों पर भी के’स द’र्ज किया जिसके अनुसार ये कहा गया कि सुशांत की बहनों को ये पता था कि सुशांत की मा’नसिक हाल’त ठीक नहीं है और वो ड्र’ग्स लेते हैं।

Rhea-Sateesh
इस मामले में रिया के वक़ील सतीश मानशिंदे ने आगे कहा कि सुशांत की बहनों को ये पता होते हुए भी उन्होंने ग़ल’त तरीक़े से सुशांत को दवाइयाँ दीं। यही नहीं ये दवाइयाँ फ़’र्ज़ी प्री’सक्रि’प्शन की मदद से ली गयी थीं। रिया के वक़ील ने कहा कि सुशांत की मा’नसिक हाल’त को देखते हुए उन्हें क़रीब पाँच डाक्टर ने ये सलाह भी दी कि वो ड्र’ग्स छो’ड़ दें लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया इसलिए रिया ने 8 तारीख़ को ही सुशांत का घर छो’ड़ दिया जिसके एक हफ़्ते बाद सुशांत का निध’न हुआ।