मुम्बई: सुशांत सिंह राजपूत की मौ’त के केस में रिया चक्रवर्ती का नाम आने के बाद से ही हलचल तेज़ है. सुशांत के पिता ने रिया के ऊपर गंभीर आरोप लगाये हैं. रिया के ख़िलाफ़ पटना पुलि’स ने मामला दर्ज किया है जिसके बाद से वो ग़ायब हैं, रिया ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है कि उन्हें अग्रिम ज़मानत दी जाए. अब इस मामले में एक नया राज़ खुला है. सुप्रीम कोर्ट में रिया चक्रवर्ती ने बयान दिया है कि वो सुशांत सिंह राजपूत के साथ लिव-इन में थीं.

उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में जो याचिका दायर की है उसमें ख़ुद माना है कि 8 जून तक वो और सुशांत लिव इन में रह रहे थे. उन्होंने बताया कि इसके बाद वो अस्थायी रूप से मुंबई में अपने घर आकर रहने लगीं. एक समाचार चैनल ने दावा किया है कि रिया ने कहा है कि सुशांत डिप्रेशन का शिकार थे और डिप्रेशन की दवा ले रहे थे. रिया ने ये भी कहा कि सुशांत की मौ’त के बाद से ही उसे ह’त्या और ब’लात्कार की धम’की मिल रही है. इस सिलसिले में रिया ने सांताक्रूज़ पु’लिस स्टेशन में शिकायत भी लिखवाई है.

जहाँ सुशांत के पिता ने रिया पर गंभीर आरोप लगाए हैं वहीँ रिया ने इस मामले में सुशांत के पिता पर ये इलज़ाम लगा दिया है कि वो इस केस को प्रभावित करेंगे. रिया का दावा है कि सुशांत के पिता का बिहार में काफ़ी प्रभाव है और इस कारण वो जाँच पर प्रभाव डाल सकते हैं. इस वजह को आधार बनाकर रिया चाहती हैं कि उनके ऊपर पटना में दर्ज हुई FIR को मुंबई में शिफ्ट किया जाए.

दिलचस्प बात ये है कि रिया ने अपनी याचिका में दिशा सालियान का ज़िक्र नहीं किया है. जिस दिन रिया ने सुशांत का घर छोड़ा है उसी दिन दिशा सालियान ने ख़ुदकु’शी कर ली. इसके बाद सुशांत ने रिया से संपर्क करने की बहुत कोशिश की लेकिन कोई कामयाबी नहीं मिली. क़ानून विशेषज्ञ मानते हैं कि इस केस की तहक़ीक़ात दिशा की मौ’त से शुरू होनी चाहिए. हालाँकि मेन स्ट्रीम मीडिया ने दिशा का नाम जिस तरह से अब तक ग़ायब किया हुआ था, उससे ज़ाहिर है कि वो भी बस टीआरपी के लिए काम कर रही थी.