पिता की इस हर’कत पर ऋषि कपूर ने मां संग छो’ड़ दिया था घर, कई महीनों तक…

शुरुआती दौर से अब तक कपूर परिवार सुर्खियों में रहता आया है, फिर चाहे फिल्मों के चलते या फिर प’र्सनल लाइफ के चलाते। आज फिर हम आपको कपूर खानदान से जुड़ा एक ऐसा वाक्य सुनाने जा रहे हैं, जिसको सुनने के बाद आप भी है’रान हो जाएंगे। बता दें कि बॉलीवुड दिग्गज ऋषि कपूर की जिंदगी में एक समय ऐसा आया था, कि वह अपनी मां के साथ घर छो’ड़ने पर मज’बूर हो गए थे। उन्होंने अपनी किताब ‘खु’ल्लम खु’ल्ला’ में इस बात का खु’ला’सा किया है।

उन्होंने बताया है कि पिता राज कपूर के अफेयर के कारण उन दोनों को ये कदम उठाना पड़ा था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राज कपूर की शादी कृष्णा के साथ हुई थी। जिसके बाद नरगिस और वैजयंतीमाला के साथ उनके अफेयर की काफी चर्चा हुई थी। जिसके बारे में ऋषि कपूर ने खुल कर अपनी किताब में लिखा है।

वह लिखते हैं कि “मैं बहुत छोटा था, जब मेरे पिता का नरगिस जी के साथ अफेयर था। इसलिए मैं उनके रिश्ते से प्रभावित नहीं हुआ। मुझे याद नहीं है कि घर में इस कारण से कुछ हुआ हो, लेकिन मुझे याद है कि जब पापा वैजयंतीमाला से जुड़े थे, तो मेरी मां ने वि’रोध किया और हम मरीन ड्राइव के नटराज होटल में रहे और वहां से हम दो महीने के लिए चित्रकूट के एक अपार्टमेंट में शिफ्ट हो गए।”

इसके आगे उन्होंने लिखा कि “मेरी मां ने तब तक हा’र नहीं मानी, जब तक कि उसने अपने जीवन के उस अध्याय को समाप्त नहीं कर दिया।” जानकारी के अनुसार वैजयंतीमाला ने बाद में अपने और राज कपूर के बीच रिश्ते से इं’कार कर दिया था। उनका कहना था कि ये सब उन दोनों ने केवल फिल्म प्रमोशन के लिए किया था, लेकिन दोनों के बीच कोई रिश्ता नहीं था।

जिसके बारे में भी बात करते हुए ऋषि कपूर लिखते हैं कि “कुछ साल पहले प्रकाशित एक इंटरव्यू में वैजयंतीमाला ने मेरे पिता के साथ कभी संबंध होने से इं’कार किया। उन्होंने दावा किया पब्लिसिटी के लिए ऐसा किया गया। मैं भ’ड़क गया था। दिखाओ कि अफेयर कभी नहीं हुआ? उन्हें तथ्यों को तो’ड़-म’रो’ड़ कर पेश करने का कोई अधिकार नहीं था, क्योंकि वह अब सच्चाई बयां करने के लिए मौजूद नहीं हैं।”

desk

desk

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!