मुंबईः 12 अगस्त को रिलीज़ होने वाली फ़िल्म “गुंजन संक्सेना: द कारगिल गर्ल” विवादों में घिरती दिख रही है. इस फ़िल्म को लेकर इंडियन एयर फ़ोर्स ने आपत्ति जताई है. भारतीय वायु सेना ने इसको लेकर एक ख़त सेंसर बोर्ड के लिए लिखा है. इस ख़त में इस बात का ज़िक्र किया गया है कि फ़िल्म में इंडियन एयर फ़ोर्स की छवि जेंडर बायस्ड दिखाई गई है. अपने ख़त में इंडियन एयर फ़ोर्स ने नेटफ्लिक्स और धर्मा प्रोडक्शन्स पर ये आरोप लगाया है कि वो संस्थान की छवि को नुक़सान पहुँचा रहे हैं.

एक समाचार एजेंसी के मुताबिक़ इंडियन एयर फ़ोर्स ने ख़त में लिखा है-“धर्मा प्रोडक्शंस ने प्रामाणिकता के साथ भारतीय वायु सेना का प्रतिनिधित्व करने के लिए सहमति व्यक्त की थी और यह सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास किए थे कि यह फिल्म अगली पीढ़ी के अधिकारियों को प्रेरित करने में मदद करे. लेकिन, हाल ही में जब फिल्म का ट्रेलर रिलीज किया गया तो इसे देखकर अनुमान लगाया गया कि फिल्म के कुछ सीन और डायलॉग लगता है, जैसे फिल्म में भारतीय वायुसेना की छवि को ग़लत तरीके से पेश किया गया है.”
Gunjan Saxena[/caption]
फ़िल्म के ट्रेलर में एक सीन है जिसमें कथित रूप से इस तरह का भाव मिलता है कि इंडियन एयर फ़ोर्स में महिलाओं को लेकर बराबरी की बात नहीं है. इस बारे में संस्थान लिखता है कि हमारा संगठन जेंडर बायस्ड नहीं है..भारतीय वायुसेना में हर के लोगों का बराबर सम्मान है. इंडियन एयर फ़ोर्स ने इस ख़त में माँग की है कि आपत्तिजनक सीन्स को हटा लिया जाए.

उल्लेखनीय है कि ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ में जहान्वी कपूर ने मुख्य भूमिका निभाई है. उनके पिता का किरदार पंकज त्रिपाठी ने निभाया है. ये फ़िल्म इंडियन एयर फ़ोर्स पायलट गुंजन सक्सेना की ज़िन्दगी पर आधारित है. वो ऐसी पहली महिला पायलट थीं जो किसी यु’द्ध में सेवा करने के लिए गईं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *