मो. रफ़ी गाने के दौ’रान पीते थे ये ख़ास चीज़, स्टूल पर खड़े होकर..

मोह’म्मद रफ़ी एक जाने- माने गायक थे और आज भी उन्हें चाहने वालों की फ़ेहरिस्त लम्बी है। उनकी आवाज़ की सादगी और कशिश दोनों ही किसी को भी अपना दीवाना बनाने के लिए पर्याप्त है। मोह’म्मद रफ़ी से जुड़े कई क़िस्से लोगों के पास हैं। मोह’म्मद रफ़ी को लेकर ये भी कहा जाता है कि वो अपने गानों को गाने के लिए जब स्टूडीओ के अंदर जाते थे तो अपनी चप्पल बाहर खोल दिया करते थे। वैसे रफ़ी अपने गीतों में जिस तरह से फ़िल्मी परदे के हीरो का अन्दाज़ लाते तह वो आज भी कोई आसानी से नहीं ला पाता। पर क्या आप जा’नते हैं मोह’म्मद रफ़ी गाने से पहले क्या पीते थे।

मोह’म्मद रफ़ी किसी भी रिकॉर्डिंग में आते थे तो उनके साथ उनका थर्मस हुआ करता था जिसमें होती थी उनकी ख़ास चाय। जी हाँ, ये चाय आम नहीं थी बल्कि बादाम की चाय हुआ करती थी। मोहम्मद रफ़ी को ये चाय बहुत पसंद थी और वो इसे साथ ही लाते कई बार साथी गायक को भी ये चाय पीने मिलती थी। गायक भूपिंदर ने बताया था कि किस तरह से जब वो अपना पहला गाना गाने पहुँचे तो मोहम्मद रफ़ी, मन्ना डे और तलत महमूद को सामने देख घ’बरा गए थे ऐसे में रफ़ी ने उन्हें अपनी ये बादामी चाय पिलाकर शांत किया था।

यहाँ तक कि भूपिन्दर ये भी बताते हैं कि जब उन्हें ‘हक़ीक़त’ फ़िल्म का वो गाना मोह’म्मद रफ़ी के साथ एक ही माइक में गाना था तो उनका क़द ज़्यादा होने के कारण रफ़ी साहब को एक स्टू’ल दिया गया। उस स्टू’ल पर खड़े होकर रफ़ी साहब ने अपना गाना गाया। इस बात से भूपिन्दर उन्हें काफ़ी प्रभावित हुए थे। रफ़ी और किशोर कुमार के फ़ैन आए दिन आपस में ल’ड़ते रहते हैं पर मोह’म्मद रफ़ी और किशोर कुमार एक- दूसरे की बहुत इज़्ज़त किया करते थे।

जब किशोर कुमार ने अपनी फ़िल्म में मोह’म्मद रफ़ी से गाना गाने के लिए कहा तो रफ़ी साहब ने उनसे सिर्फ़ एक रुपए मेहनताना लिए थे। वो भी इसलिए क्योंकि किशोर कुमार उन पर फ़ीस लेने के लिए ज़ो’र डा’ल रहे थे। किशोर कुमार ख़ुद मोह’म्मद रफ़ी के बड़े फ़ैन थे और वो अक्सर अपने शोज़ में मोह’म्मद रफ़ी के गाने गाकर शो की शुरुआत किया करते ये कहते हुए कि रफ़ी साहब के होते मेरी आवाज़ में गीत कौन सुनेगा।किशोर कुमार ने अपने फ़ैन्स से कहा भी था कि वो रफ़ी साहब से उनका मुक़ा’बला न करें वो उनके सामने नहीं टि’केंगे।

चुग़ली बाज़

चुग़ली बाज़

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!