बॉलीवुड और साउथ फिल्म इंडस्ट्री की अपनी अपनी एक अलग पहचान है। लेकिन पिछले कुछ समय से दोनों इंडस्ट्रियों के कलाकार एक दूसरे के खिला’फ बयान बाजी कर रहे हैं। इस सिलसिले में अब साउथ के मशहूर एक्टर महेश बाबू भी शामिल हो गए हैं। हाल ही में उन्होंने एक बयान दिया था जिसके कारण वह लोगों की नजरों में आ गए थे। उन्होंने अपने एक बयान में बोला था कि बॉलीवुड वाले उनको किसी फिल्म के लिए अफॉ’र्ड नहीं कर सकते। उनके इस बयान के बाद बहुत से बॉलीवुड कलाकारों के सीने में आ’ग लग चुकी है।

इस बयान के सामने आने के बाद हिंदी सिनेमा के मशहूर फिल्ममेकर राम गोपाल वर्मा ने महेश बाबू को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि हिंदी सिनेमा की बदौलत ही महेश बाबू की फिल्में पैसा कमाती हैं। एक इंटरव्यू के दौरान फिल्ममेकर कहते हैं कि “यह एक अभिनेता के रूप में उनकी पसंद है। लेकिन मैं ईमानदारी से यह नहीं समझ पाया कि बॉलीवुड से उनका क्या मतलब है।”

वर्मा आगे बोलते हैं कि “मैं उन्हें ब’र्दाश्त नहीं कर सकता। मैं अभी भी समझ नहीं पा रहा था कि उनका इससे क्या मतलब था, क्योंकि बात यह है कि अगर आप हाल की दक्षिण भारतीय फिल्मों को देखें, तो उन्हें डब करके रिलीज किया गया और फिर उन्होंने जो भी किया वह सबके सामने है।”

इसके आगे वह बॉलीवुड पर बात करते हुए कहते हैं कि “इसके अलावा, सबसे पहले, बॉलीवुड एक कंपनी नहीं है। यह मीडिया द्वारा दिया गया एक लेबल है। एक व्यक्तिगत फिल्म कंपनी या प्रोडक्शन हाउस आपको एक विशेष कीमत पर एक फिल्म करने के लिए कहेगा, तो इसमें बॉलीवुड का संदर्भ समझ में नहीं आता है।” गोरतलब हैं कि महेश बाबू ने अपने इस तीखे बयान पर सफाई भी दी है। उन्होंने कहा है कि वह हिंदी सिनेमा में काम नहीं करना चाहते।

error: Content is protected !!