जॉन अब्राहम अपनी ही तरह के एक हीरो हैं उन्हें कभी ए’क्शन हीरो कहा जाता है तो कभी रोमांटिक हीरो। वैसे जॉन अब्राहम के लु’क्स के दीवानों की क’मी नहीं है। ये अलग बात है कि जॉन को ये नहीं पता कि लोग उन्हें हैन्सम कैसे बुला सकता है। जॉन कहते हैं कि “मैंने कहीं पढ़ा था कि आपको विश्वास नहीं होता कि आप हैन्सम हैं। हाँ,मुझे लगता है कि ये बहुत ही सबजे’क्टिव विषय है।

वहीं जॉन ने आगे बताया कि “अगर आप किसी ख़ास दिन अच्छा महसू’स करते हैं तो आपको बढ़िया लगता है। पर मुझे यक़ीन नहीं है कि कोई इंसान दुनिया भर के लोगों के लिए हैंडसम या सुंदर हो सकता है”। जॉन अपनी फ़िल्मों में काम कर रहे हैं और उन्हें काफ़ी सराहा भी जा रहा है। उनका कहना है कि इंडस्ट्री में अब इनसि’क्योरो’टी नाम के ता’र जुड़ गए हैं। अब मैं एक ऐसे जगह पर हूँ जहाँ मुझे कोई फ़’र्क़ नहीं प’ड़ता।

जॉन का कहना है कि उन्हें ये फ़’र्क़ नहीं प’ड़ता कि वो बाहर कैसे नज़र आते हैं बल्कि ये ज़्यादा ज़रूरी है कि हम अंद’र से कैसे नज़र आते हैं। जॉन ने बताया कि वो किसी भी सोशल मीडिया में व्हाट्सएप में नहीं हैं और जल्द ही वो सारे प्लेटफ़ॉर्म को भी छो’ड़ने वाले हैं।इस शो में उन्होंने बताया कि इन दिनों उन्होंने क्या-क्या छो’ड़ा है। उन्होंने कहा कि शक्कर सेहत के लिए बेहद ख़राब है। शक्कर की तु’लना में सिग’रेट भी क’म नु’क़सा’न करेगा।

जॉन ने इस इंटरव्यू के दौ’रान एक बाहर ज़रूरी बात भी साझा किया। जॉन ने बताया कि पिछले 17-18 सालों में उन्होंने काम को पूरा समय दिया है और ख़ुद सिर्फ़ दो या तीन ही छुट्टी ली है। उन्होंने इसे ग़ल’त भी बताया उन्होंने कहा कि हर एक को ब्रे’क की ज़रूरत है। वहीं जॉन ने बताया कि उन्होंने अपनी पसंदीदा मिठाई काजू कतली तक़रीबन 27 सालों से नहीं खायी है। उनकी ये बात बताती है कि वो कितने दृढ़ संकल्प वाले व्यक्ति है।

error: Content is protected !!