मुम्बई: सुशांत सिंह राजपूत की मौ’त के बाद जब जाँच हुई तो इसमें बहुत सी बातें हुईं. हालाँकि अभी भी कोई ठोस सुशांत की मौत के मामले में नहीं मिला है. ये और बात है कि इसी मामले की जाँच करते हुए NCB को ड्र’ग्स के रैकेट का पता चला है जिसकी अलग से जाँच हो रही है. इसी मामले में कुछ गिर’फ्तारियाँ हुई हैं लेकिन जिस तरह से मीडिया ने इसमें एक तरफ़ा कवरेज की है वो सभ्य लोगों को बर्दा’श्त नहीं हो रहा है.

इस समय स्थिति ये है कि जो लोग बॉलीवुड फ़िल्मों से, बॉलीवुड ख़बरों से, फ़िल्मों के रिव्यु से पैसा कमाते थे सब बॉलीवुड की बु’राई में लग गए हैं. कुछ फ़िल्म स्टार जो शायद इस मौक़े में थे कि वो किसी लाइमलाइट में आयें वो इस बहस में इस क़दर आगे चले गए हैं कि अपना सम्मान ही खो बैठे हैं. कुल मिलाकर हाल ये है कि जिसकी जो मर्ज़ी बोल दे और इस फ़ॉर्मूला पर चलते हुए भाजपा सांसद और फ़िल्म अभिनेता रवि किशन ने लोकसभा में एक ऐसा बयान दे दिया जिसकी भरसक आलोचना हो रही है.
Farhan Akhtar [/caption]
उन्होंने बॉलीवुड की तुलना गटर से कर दी. उनकी इस टिपण्णी पर सपा सांसद और दिग्गज अभिनेत्री जया बच्चन ने आज राज्यसभा में उन्हें जमकर फटकार लगाई. जया बच्चन ने बिना नाम लिए रवि किशन पर टिप्पणी की कि जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं. उन्होंने कहा,”कुछ लोगों की वजह से, आप पूरी इंडस्ट्री की छवि ख़राब नहीं कर सकते हैं. मुझे कल बहुत बुरा लगा जब लोकसभा के एक सदस्य, जो खुद इंडस्ट्री से ताल्लुक रखते हैं, ने फिल्म इंडस्ट्री के बारे में ख़राब बोला. जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं.”

जया बच्चन के बयान से जहाँ कँगना रानौत जैसे लोगों को धक्का लगा है वहीं जया बच्चन को बड़े स्तर पर समर्थन भी मिल रहा है. फ़िल्म अभिनेता और निर्माता-निर्देशक फ़रहान अख़्तर ने जया बच्चन के बयान का स्वागत किया है. उन्होंने माइक्रो-ब्लॉग्गिंग वेबसाइट ट्विटर पर कहा,”रेस्पेक्ट, जब भी ज़रूरत होती है तो वह अपनी आवाज़ बुलंद करती हैं.”