जब गौरी को लेकर बेहद ड’र गए थे शाहरुख़, “शरीर ठंडा था..लगा वो म’र जाएगी”

शाहरुख़ खा’न इस इंडस्ट्री के जाने- माने स्टार हैं ज़ो दशकों से लोगों के दिलों पर अपनी जगह बना रखे हैं। शाहरुख़ खा’न के लिए उनका परिवार कितना ज़रूरी है ये बात वो कई इंटरव्यूज़ में बता चुके हैं। शाहरुख़ जब फ़िल्मी दुनिया में आए थे तभी से गौरी के साथ विवाह कर चुके थे। शाहरुख़ और गौरी ने बताया कि जब उनके पहले बच्चे यानी आर्यन का जन्म होने वाला था तो किस तरह शाहरुख़ ने गौरी का साथ हर कद’म पर दिया था।

आर्यन से पहले गौरी के कुछ मिस- कै’रेज भी हो चुके थे।इसलिए उसके जन्म के समय कुछ दिन मु’श्किल भरे थे। वहीं सुहाना के जन्म के समय दोनों काफ़ी एक्साइटेड भी थे। उन्हें बेटी हुई और दोनों काफ़ी समय से बेटी चाहते भी थे लेकिन पहली बार उन्हें बेटा हुआ था। अब शाहरुख़ और गौरी अबराम के माता-पिता बने हैं। वैसे आर्यन की डिलीव’री के समय शाहरुख़ ऑ’परे’शन थिए’टर में बने हुए थे। अपना ये अनुभव उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था।

जब शाहरुख़ आर्यन के जन्म के एक महीने बाद एक शो में आए थे तो उन्होंने बताया था कि उन्हें इस डिली’वरी के दौरान कैसा लगा था। गौरी ने बताया था कि शाहरुख़ पूरी प्रेगनेंसी के सपो’र्टिव बने हुए थे। गौरी ने बताया कि शाहरुख़ उनके साथ ऑ’परे’शन थिए’टर में मौजूद थे। गौरी ने बताया कि “वे सचमुच बच्चे को बाहर खीं’च रहे थे। साथ ही तस्वीरें भी खीं’च रहे थे। उस समय डॉक्टर कह रहे थे कि हमें हमारा काम करने दीजिए”।

शाहरुख़ ने उस बारे में बताते हुए कहा कि “मैं मा’स्क और बाक़ी सब चीज़ें पहनकर अंदर था। उन्होंने बच्चे को बाहर निकाला और मैंने सब कुछ देखा। यहाँ तक कि गौरी का ची’रा भी। उन्होंने मुझे यह सब नहीं देखने के लिए कहा था लेकिन मुझे उस पल का आनंद मिल रहा था”। गौरी ने कहा कि “ये तो एक फ़िल्म की तरह सब देख रहे थे”। शाहरुख़ ने बताया कि “सबसे पहले आर्यन का सिर निक’लते देखा उसके साथ गौरी के शरीर से निक’लता खू’न भी दिखा”।

जब शाहरुख़ से इस अनुभव के बारे में पूछा गया कि एक नयी ज़िंदगी के रूप में बच्चे को जी’वित बाहर आते देख उन्हें कैसा मह’सूस हुआ। तो शाहरुख़ का कहना था कि “मुझे नहीं पता। मैं जैसे कह रहा था कि बच्चे को एक तरफ़ रखो, मुझे गौरी को देखने दो। मैं उस वक़्त बच्चे से ज़्यादा क्लो’ज़ गौरी के था। मैं गौरी को लम्बे समय से जा’नता था”। शाहरुख़ ने इसके आगे जो बात कही वो सुनकर आपको भी लगेगा कि शाहरुख़ गौरी को कितना प्यार करते हैं।

शाहरुख़ ने कहा कि “जब मैंने डिली’वरी के समय गौरी को अस्प’ताल में देखा तो मैं बहुत ड’रा हुआ था। मैंने अपने माता-पिता दोनों को अस्प’ताल में खो’या था। गौरी बहुत ना’ज़ुक थी मैंने उसे कभी बीमा’र होते भी नहीं देखा था। जब मैंने उसे अस्प’ताल में देखा तो उन्होंने उसे ट्यूब और बाक़ी चीज़ें लगा रखी थी। वो बे’होश हो रही थी उसका शरीर ठंडा था। मुझे लगा कि वो म’र जाएगी”।

शाहरुख़ ने आगे बताया कि “जब गौरी को ऑ’परे’शन थिए’टर ले ज़ाया गया तो मैं उसके साथ था। उस समय मैंने मेरे बच्चे के बारे में बिलकुल नहीं सोचा। मेरे लिए वो ज़’रूरी नहीं था। गौरी काँ’प रही थी और मैं लॉजि’कली जानता था कि बच्चे को जन्म देते समय म’रते नहीं हैं लेकिन फिर भी मेरे मन में एक ड’र था”।

शाहरुख़ ने बेटे के जन्म को पूरा देखा और जब उन्हें गौरी सही- सलाम’त दिखीं तभी। उनकी जा’न में जा’न आयी। शाहरुख़ का गौरी के लिए प्यार इस बात से भी साबित होता है कि वो उन्हें सबसे मु’श्कि’ल समय में छो’ड़कर नहीं गए। गौरी शाहरुख़ को इन सारी बातों के लिए एक बेहतरीन इंसान मानती हैं। दोनों का प्यार लोगों के लिए एक मिसा’ल है।

चुग़ली बाज़

चुग़ली बाज़

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!