अक्सर फिल्म इंडस्ट्री से चौं’काने वाली बातें साम’ने आती हैं। कभी बॉलीवुड से कास्टिं’ग का’उच की खबरें आती हैं तो कभी सेलेब्स अपने संघ’र्ष की कहानी लोगों के साथ शे’यर करते हैं। पिछले काफी समय से बड़े पर्दे से दू’र रह रही एक्ट्रेस महिमा चौधरी ने भी अपने करियर के शुरुआती दिनों के बारे में बताया है। इस दौ’रान उन्होंने कई चौं’काने वाले खुला’से किए हैं। उनका कहना है कि बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर सुभाष घई ने उन्हें काफी बु’ली किया था, यहां तक कि उनके करियर को नुक’सान पहुंचाने तक की कोशिश की थी। महिमा चौधरी ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत सुभाष घई की फिल्म ‘परदेस’ से ही की थीं।

महिमा चौधरी ने चौं’काने वाली बात करते हुए कहा कि “मुझे मिस्टर सुभाष घई ने बु’ली किया। वो मुझे को’र्ट तक लेकर भी गए और मेरा पहला शो भी कैं’सिल करना चाहते थे। वो दौ’र बहुत ही तना’वपूर्ण था। उन्होंने सभी प्रोड्यूसर्स को मैसेज भेज दिया कि मेरे साथ किसी को काम नहीं करना चाहिए। अगर आप 1998 और 1999 के Trade Guide magazine का कोई इश्यू उठाकर देखें तो उन्होंने ए’ड दिया था कि अगर किसी को मेरे साथ काम करना है तो पहले उनसे कॉन्टै’क्ट करें नहीं तो ये कॉन्ट्रै’क्ट का उल्लं’घन होगा। लेकिन मैंने ऐसा कोई कॉन्ट्रै’क्ट साइन नहीं किया था, जिसमें लिखा हो कि मुझे उनकी इजाजत लेनी होगी।”

Mahima- Subhash Ghai
महिमा ने बताया कि ऐसे मुश्कि’ल वक़्त में सिर्फ कुछ ही सेलेब्स उनके सपो’र्ट में खड़े थे। उन्होंने कहा कि “सलमान खा’न, संजय दत्त, डेविड धवन और राजकुमार संतोषी सिर्फ ये चार ही थे जो मेरे साथ खड़े रहे। डेविड धवन ने मुझसे कहा था कि उसे तुम्हें बु’ली म’त करने दो, मजबूत रहो। इसके अला’वा मुझे किसी का कॉल नहीं आया।” वहीं इस दौ’रान साल 1998 में आई फिल्म ‘सत्या’ के बारे में भी महिमा ने बात की। उन्होंने बताया कि फिल्ममेकर राम गोपाल वर्मा ने उन्हें बिना बताए एक्ट्रेस उर्मिला मांतोड़कर से रिप्ले’स कर दिया था और फिल्म की शू’टिंग भी शुरू कर दी थी।

By desk 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *