मुंबई. मश’हूर टीवी सीरियल ‘तारक मेहता का उ’ल्टा चश्मा’ से जुड़े एक लेखक ने ख़ु’दकु’शी कर ली है. अभिषेक म’कवाना लम्बे समय से इस धारावाहिक के साथ जुड़े हुए थे. उन्होंने एक सुसा’इड नोट भी छो’ड़ा है और उसमें उन स’मस्याओं का ज़िक्र किया है जिनकी वजह से उन्हें इस तरह का क़’दम उ’ठाना प’ड़ा. उन्होंने अपने इस क़द’म के पीछे ‘आ’र्थिक परेशा’नियाँ’ बताया है. अभिषेक ने पिछले हफ़्ते आ’त्म-ह’त्या की थी, उनके परिवार ने आरो’प लगाया है कि अभिषेक साइबर धो’केबाज़ी का शिका’र हुए हैं.

परिवार के अनुसार अभिषेक को ब्लै’क-मेल किया जा रहा था. मुंबई मिरर में छ’पी ख़बर के मुताबि’क़ उनकी मौ’त के बाद से ही अब उनके घरवालों के पास क़’र्ज़ लौ’टाने का द’बाव बनाया जा रहा है. फ़ोन करने वाला दा’वा कर रहा है कि अभिषेक ने लोन में परिवार के सदस्य को गा’रंटर बनाया था. आपको बता दें कि अभिषेक गत २७ नवम्बर को अपने कांदिवली, मुंबई स्थित घर में मृ’त पाए गए थे. इसके बाद चारकोप पु’लिस ने एक्सी’डेंटल डेथ का के’स दर्ज किया था. इस मामले में परिवार की ओर बयाँ दर्ज किए गए हैं.

अभिषेक के भाई जेनिस ने इस मामले में दा’वा किया है कि अभिषेक के ईमेल से ये पता लगा है कि फाइ’नेंशियल फ्रॉड जैसा कुछ उनके साथ हुआ है. अभिषेक के सुसाइ’ड नोट से भी ये पता लगता है कि कुछ इस तरह का मा’मला है. परिवार की ओर से दा’वा किया जा रहा है कि पिछले लम्बे समय से अभिषेक इस सम’स्या से जूझ रहे थे लेकिन किसी से कह नहीं पा रहे थे.