इस एक्टर की गोद में सिर रखकर रोने लगे थे राज कपूर, दी थी बड़ी सलाह..

बॉलीवुड में भारत कुमार के नाम से मशहूर मनोज कुमार अपनी देशभक्ति की फ़िल्मों के कारण काफ़ी महशूर हैं। कहा जाता है कि एक समय पर जब उन्होंने फ़िल्मी दुनिया में एक्टिंग के बाद नि’र्देशन में कदम रखने की बात सोची थी तब उन्हें राज कपूर ने कुछ ऐसा कहा था जिससे राज कपूर का घमं’ड बाहर आ गया था। दरअसाल राज कपूर और मनोज कुमार अच्छे दोस्त थे। दोनों ने फ़िल्म ‘मेरा नाम जोकर’ में साथ काम भी किया था।

जब मनोज कुमार फ़िल्म निर्देशन में कदम रखने का सोचे। उन्होंने अपनी पहली फ़िल्म उपकार को बनाने का फ़ै’सला किया। इस समय उन्हें राज कपूर ने कहा था कि “या तो एक्टिंग कर लो या फिर डायरेक्ट ही कर लो। हर कोई राज कपूर नहीं होता, जो दोनों काम स’क्सेसफु’ली कर ले”। राज कपूर की ये बात सुनने के बाद मनोज कुमार ने ठान लिया कि वो तो फ़िल्म का निर्देशन और इसमें एक्टिंग साथ ही करेंगे। ये फ़िल्म सुपरहि’ट हुई। यही नहीं फ़िल्म का गीतों ने भी धू’म म’चा दी।

आज भी हर देशभक्ति के माहौल में ‘मेर देश की धरती सोना उगले’ गीत न बजे ऐसा होता ही नहीं। इस फ़िल्म ने राज कपूर के घमं’ड को तो’ड़ दिया था। इसके बाद भी मनोज कुमार ने कई फ़िल्मों का निर्देशन और उसमें अभिनय साथ ही किया और फ़िल्मों ने अपना क’माल भी दिखाया।जैसे कि ‘पूरब और पश्चिम’, ‘रोटी कपड़ा और मकान’ ‘शोर’ आदि। मनोज कुमार ने कहा था “राज कपूर को लगता था कि वो ख़ुद के प्रतियोगी ख़ुद हैं लेकिन उन्हें पता चला कि कोई उनका मुक़ा’बला करने आ गया है”।बाद में दोनों की दोस्ती हो गयी।

एक और घ’टना का ज़ि’क्र करते हुए मनोज कुमार ने बताया कि एक बार राज कपूर को लगा कि उन्होंने मनोज कुमार को कॉल किया और मनोज ने उनका फ़ोन रॉं’ग नम्बर कहकर रख दिया। इस बात से राज कपूर आहत हुए। जब उसी शाम वो दोनों संगीतकार शंकर जयकिशन के घर मिले तो मनोज कुमार ने उन्हें बताया कि वो तो मुंबई में ही नहीं थे। आगे मनोज कुमार ख़ुद बताते हैं “मैंने उन्हें कहा कि न तो मैं और न ही मेरी पत्नी शशि उन्हें कभी परे’शान करने की हि’म्मत करेंगे। मैंने उन्हें बताया कि मैं उनके साथ काम करने के लिए उ’त्सुक हूँ”।

मनोज कुमार आगे कहते हैं कि “जब मैंने उन्हें दिल्ली के रीग’ल थिएटर की घटना के बारे में बताया तो वो चुपचाप सब सुनते रहे। बाद में राज साहब ने मेरी बात सुनने के बाद मेरी गोद में सिर रखकर रो’ने लगे”।मनोज कुमार का कहना था कि राज कपूर एक सच्चे शो मैन थे।जहाँ एक ओर वो अपनी फ़िल्मों को लेकर काफ़ी ग’म्भीर रहते थे वहीं उन्हें जो पसंद आ जाए उसे अपने दिल में ब’साकर रखते थे।

चुग़ली बाज़

चुग़ली बाज़

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!