“चुग़लीबाज़” में आप सभी का स्वागत है और आज हम आपको बतायेंगे उन हीरोइन्स के बारे में जो अच्छे गायक भी हैं. इनमें से कुछ तो ऐसे हैं जो कमाल के गायक हैं. तो बिना इधर-उधर की बात करे आज के टॉपिक पर आ जाते हैं. सबसे पहले हम बात करेंगे प्रियंका चोपड़ा की. प्रियंका ने अपने फ़िल्मी सफ़र में एक से बढ़कर एक किरदार निभाये. “अंदाज़” में चुलबुली सी लड़की का किरदार निभाने वाली प्रियंका ने “बर्फ़ी” में संजीदा किरदार अदा किया. भारत में कामयाबी हासिल करने के बाद उन्हें USA से भी बड़े ऑफ़र मिलने लगे. इन ऑफ़र को उन्होंने लपका और वहाँ भी काम करने लगीं. USA में काम शुरू करने के बाद उन्होंने बतौर गायिका भी ख़ुद को स्थापित करना शुरू किया और अपने गाने निकाले.

प्रियंका के बाद हम बात करेंगे आलिया भट्ट की. आलिया भट्ट के बारे में कहा जाता है कि वो भी अच्छा गाती हैं. उन्होंने अपनी फ़िल्मों के 6 गाने अब तक गाये हैं और जितना अच्छा वो गाती हैं, उससे हमें उम्मीद है कि वो आगे और भी गानों को अपनी आवाज़ देंगी. उन्होंने इक कुड़ी जीदा नाम मुहब्बत है, समझावां जैसे गानों को भी आवाज़ दी. आलिया आज के दौर की कामयाब अभिनेत्री मानी जाती हैं. उन्होंने अपने करीयर में कई तरह के किरदार अदा किये हैं. पिछले साल उनकी फ़िल्म ‘गली बॉय’ आयी थी जिसके लिए उनकी बहुत तारीफ़ हुई थी.

इस लिस्ट में तीसरी अभिनेत्री का नाम श्रद्धा कपूर है. श्रद्धा को कामयाबी आशिक़ी 2 से मिली. इस फ़िल्म में उन्होंने एक गायक की ही भूमिका निभाई थी लेकिन तब ये लोगों को नहीं मालूम था कि श्रद्धा बहुत अच्छा गाती भी हैं. आशिक़ी, एक विलेन और छिछोरे जैसी फ़िल्मों से ख़ुद को स्थापित करने वाली श्रद्धा कपूर ने “तेरी गलियाँ” का अन-प्लग्ड वर्शन भी गाया है. उन्होंने हाल्फ़ गर्ल फ्रेंड, रॉक ऑन 2, और हैदर जैसी फ़िल्मों में गाने गाकर साबित किया है कि वो एक्टिंग तो कमाल की करती ही हैं, उनकी आवाज़ भी जादू बिखेर सकती है.

अब हम जिस अभिनेत्री की बात कर रहे हैं उनकी कहानी थोड़ी सी उलटी है. जी, असल में उनकी पहचान है बतौर गायिका लेकिन उन्होंने एक्टिंग भी कमाल की की है. हम बात कर रहे हैं बंगाली धारावाहिक आलोकितो एक इंदु में बच्ची इन्दुबाला का किरदार निभाने वाली मोनाली ठाकुर की. मोनाली ने बचपन में ही एक्टिंग शुरू कर दी थी. बॉलीवुड फ़िल्मों में उन्होंने शुरुआत लक्ष्मी से की. सन 2014 में आयी ‘लक्ष्मी’ से उन्होंने साबित किया कि वो अच्छी एक्टिंग करती हैं. पीके में भी उन्होंने एक स्पेशल अपेअरेंस किया. मोनाली की पहचान लेकिन उनके गानों की वजह से है. “मोह मोह के धागे” के लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरूस्कार से भी सम्मानित किया गया. लूटेरा के “सवार लूँ” के लिए उन्हें फ़िल्मफेयर अवार्ड भी मिला. मोनाली अपनी गायिकी के साथ अपनी एक्टिंग पर भी ध्यान दे रही हैं और हम उम्मीद करते हैं कि आगे हम उन्हें एक्टिंग करते हुए भी देखेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *