मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत के साथ क्या हुआ क्या नहीं अब शायद ही कोई उसमें इंटरेस्टेड है. अब लोगों का इंटरेस्ट रिया चक्रवर्ती में भी नहीं है, अब कुछ मीडिया हाउस और उनको फॉलो करने वाले कुछ लोगों का इंटरेस्ट बस इसमें है कि चहेते फ़िल्म स्टार, निर्देशक कैसे जेल में जाएँ. लम्बे समय से बॉलीवुड में रहने के बाद भी जो लोग एक्टिंग नहीं सीख पाए उनके पास सुनहरी मौक़ा हाथ लगा है कि वो बॉलीवुड के बड़े से बड़े नाम को ज़लील कर सकें.

मीडिया ने ट्रोल का रूप ले लिया है और अदालतों के फ़ैसले का इंतज़ा’र करने के बजाय अब ख़ुद फ़ैसला सुनाना शुरू कर दिया है. कोई रोये तो नाटक है, कोई न रोये तो घमं’डी है, कोई अपने साथी को दवा दे तो भी ग़’लत और कोई उसे कुछ न दे तो भी ग़लत.. साथ रहे तो भी परे’शानी और साथ छोड़कर चले जाना भी परेशानी. अजीब सी स्थिति पैदा हो गयी है. शायद लोगों को भी अपने से बड़े नामवर लोगों को ज़लील करने का मौक़ा चाहिए था और झूठा ही क्यूँ न सही लेकिन हाथ तो आ ही गया है.


सुशांत केस में शुरू से ही एक व्यक्ति की ट्रोलिंग हो रही थी और वो हैं करण जौहर. करण जो अपनी कामयाब फ़िल्मों के लिए जाने जाते हैं, आजकल मीडिया का एक अंग उन्हें ड्र’गी बताने पर तुला है. वो भी तब जबकि उनका किसी जाँच में अब तक कोई नाम भी नहीं आया है. बार-बार एक क्लिप शेयर की जाती है जिसमें करण की पार्टी में कुछ लोगों का वीडियो है, इसमें दीपिका पादुकोण, विक्की कौशल जैसे लोग भी शामिल हैं. अब इसमें दा’वा किया जा रहा है कि ये सब ड्र’ग्स लिए हुए हैं.

इसी को लेकर करण ने अपना बयान जारी किया है. उन्होंने सोशल मीडिया अकाउंट इन्स्टा पर अपना बयान जारी किया. करण जौहर ने इंस्टाग्राम एकाउंट पर जारी किए गए अपने बयान में कहा है,”मीडिया में ये खबरें ग़’लत चलाई जा रही हैं कि मेरे द्वारा 28 जुलाई 2019 में होस्ट की गई पार्टी में ड्र’ग्स का इस्तेमाल हुआ था. मैंने 2019 में भी ये साफ किया था कि इस तरह के सारे आरोप बिलकुल ग़’लत हैं. इन दिनों दु’र्भावनापूर्ण चलाए जा रहे कैंपेन को देखते हुए मैं साफ कर देना चाहता हूं कि इस तरह के आरोप पूरी तरह बे’बुनियाद और झू’ठे हैं. पार्टी में किसी ड्र’ग्स का कोई इस्तेमाल नहीं हुआ था”.