फ़िल्म सेट पर कई बार कुछ हाद’से हो जाते हैं जहाँ कलाकार शू’ट के दौरान दुर्घ’टना का शिकार हो जाते हैं। ऐसा ही एक क़िस्सा हम आपके लिए आज ले कर आए हैं। एक बार शू’ट के दौरान देव आनंद डू’ब गए थे ये क़िस्सा क्या है चलिए आपको बताते हैं। दरअसल ये बात है देव आनंद और गीता बाली की फ़िल्म जाल का। इस फ़िल्म की शू’ट के दौरान एक सी’न था जिसमें देव आनंद और गीता बाली को सागर के अंदर जाकर शू’ट करना था।

निर्देशक गुरुदत्त ने कहा कि आप दोनों जाइए और जब मैं कहूँगा तो रुक जाना बस देव आनंद और गीता बाली बातें करते-करते चले जा रहे थे और दोनों को गुरुदत्त की आवाज़ ही सुनायी नहीं दी और दोनों बढ़ते-बढ़ते लहरों के बीच आ गए। आख़िर जब पानी गहरा होने का आभास हुआ तब तक देर हो गयी थी। एक बड़ी सी लहर आयी और दोनों को डू’बा ले गयी। सारी यूनिट की साँसे थम गयीं लेकिन तभी लहर वापस गयी और गीता बाली हँसती हुई खड़ी हो गयीं देव आनंद भी किसी तरह पीछे खड़े हुए और दोनों को बाहर निकाला गया।

यही नहीं जाल की शू’ट के दौरान ही एक और हा’दसा दोनों कलाकारों के साथ हुआ था। एक रोज़ देव आनंद के साथ ही गीता बाली लौट रहीं थीं और अचानक गाड़ी का संतुलन बि’गड़ा और वो पेड़ से जा टकरायी। गाड़ी चलाते देव आनंद तो ग’म्भीर रूप से ज़’ख़्मी हो गए। वहीं बाज़ू में बैठी गीता बाली को चेहरे पर चो’ट लगी। जब अस्पताल में गीता बाली देव आनंद को देखने पहुँची तो देव आनंद ने उनसे माफ़ी माँगते हुए कहा कि मेरे कारण तुम्हारे चेहरे पर ये दाग़ लग गया। मुझे माफ़ करना एक हीरोईन के चेहरे पर दाग़ होना कितना बुरा हो सकता है मैं जानता हूँ। इस पर गीता बाली ने हँसते हुए उन्हें कहा कि देव साहब दाग़ तो चाँद में भी होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *