देव आनंद अपने जमाने के सबसे फेमस सितारों में से एक थे. साठ के दशक के उस दौर में दिलीप कुमार, राज कपूर और देवानंद का सिक्का चलता था. देवानंद के बारे में कहा जाता है कि वह अपने काम से बहुत मुहब्बत करते थे. हालांकि यह भी बात है उनके बारे में कि वह अपने साथ काम करने वाले लोगों का भी ख्याल रखते थे.

वह उनसे हंसी मजाक करते रहते थे और इस तरह से एक अच्छा माहौल छत पर बना रहता था. उन्हीं के द्वार की बेहद मशहूर अदाकारा वहीदा रहमान देवानंद के बारे में एक बात बताती हैं. वहीदा रहमान भी देव साहब की बहुत बड़ी फैन थीं. वहीदा ने हाल ही में एक्टर और लेखिका ट्विंकल खन्ना को एक इंटरव्यू में कुछ बातें बताई है.

वहीदा जी ने देव साहब के बारे में बताया के वह देवानंद की बहुत बड़ी फैन थी. उन्होंने बताया कि उनकी पहली फिल्म ही देव साहब के साथ थी. वहीदा रहमान ने देवानंद की मिमिक्री करते हुए बताया कि पहली मुलाकात में उन्होंने पूछा,”वहीदा कैसी हो.. आओ यह करते हैं कम ऑन कम ऑन”. उन्होंने कहा कि जब पहली बार उनसे मिली तो कहा,”नमस्ते,देव साहब.”

उन्होंने तुरंत कहा,”कौन देव साहब.” उन्होंने कहा कि तुम मुझे बस देव कहा करो. उन्होंने फिल्म गाइड जुड़ा एक क़िस्सा भी साझा किया है. उन्होंने बताया कि चेतन आनंद और टेड डेनियल व्हिस्की उन्हें फिल्म में नहीं लेना चाहते थे. दोनों वहीदा जी को पसंद नहीं करते थे और इसकी एक वजह ये भी थी कि उनकी इंग्लिश अच्छी नहीं थी. हालाँकि देव साहब ने दोनों को साफ़ कह दिया,”मुझे फ़र्क़ नहीं पड़ता, मेरी रोज़ी सिर्फ वहीदा होगी.”

1965 में रिलीज़ हुई ‘गाइड’ भारतीय फ़िल्म इतिहास में मील का पत्थर मानी जाती है. ये फ़िल्म हिंदी और अंग्रेज़ी दोनों भाषाओं में बनाई गई थी. फ़िल्म में वहीदा रहमान ने ‘रोज़ी’ का किरदार निभाया था. देव साहब की सन 2011 में मृत्यु हो गई.

error: Content is protected !!