दिलीप कुमार के नि’धन को काफ़ी समय गुज़’र गया है लेकिन उनकी पत्नी एक्ट्रेस सायरा बानू के लिए जैसे वक़्त थ’म गया है। उनके करीबी बताते हैं कि दिलीप साहब के जाने के बाद से साइरा बानू अपने में क़ै’द हो गयी हैं।वो न किसी से बात करती हैं और न ही किसी का फ़ोन उठाती हैं। यहाँ तक कि वो किसी से मिलती भी नहीं हैं।

ऐसा वो लम्बे समय से कर रही हैं। उन्होंने अपने आप को सभी से अल’ग कर लिया है। लेकिन दिलीप साहब के नि’धन के बाद एक ऐसा वक़्त भी आया था जब साइरा बानू को एक शख़्स की चिं’ता होने लगी थी। वो रो’ज़ाना फ़ोन उठाकर उनका हाल पू’छा करती थीं। ये शख़्स कोई और नहीं बल्कि लता मंगेशकर थीं, जो अब इस दुनिया में नहीं हैं।

दिलीप कुमार लता मंगेशकर को अपनी बहन मा’नते थे और दोनों भाई बहन का ये रिश्ता निभाते भी थे। ऐसे में साइरा बानू भी लता मंगेशकर की खूब परवाह किया करती थीं।जब लता जी का नि’धन हुआ तो साइरा बानू ने बताया था कि वो काफ़ी समय से लता जी की सेह’त की जा’नकारी लेती रहती थीं।

साइरा बानू ने बताया था कि कैसे एक प्रोग्राम के दौरान दिलीप साहब में लता मंगेशकर को मेरी छोटी बहन लता आओ कहा था और ये रिश्ता बन गया था। लता मंगेशकर के नि’धन पर साइरा बानू ने कहा था कि “मेरे लिए ये एक बु’रा दिन है। मैं पिछले महीने उनके अस्प’ताल में भ’र्ती होने के बाद से उनकी ख़बर रख रही थी। मैं उनकी भतीजी से सम्पर्क में हूँ। मैंने सुबह ही लता जी के बारे में पूछा था”।

आगे साइरा बानू ने बताया था कि ‘लता जी हमारे परिवार की तरह ही थीं। आज दिलीप साहब ने अपनी बहन को खो दिया। वो हमारे घर आतीं थीं तो लगता था कि घर का ही कोई सदस्य है। जब पता चलता कि वो आ रही हैं तो दिलीप साहब उनकी पसंद का खाना बनवाते थे”।

आगे साइरा बानू ने इस रिश्ते को बताते हुए कहा था, “लता जी सादा खाना खाती थीं तो दिलीप साहब वैसा ही खाना बनवाते थे। लता जी को शाही क’बाब, को’रमा और बि’रया’नी पसंद थी। वो दिलीप साहब को अपने हाथ से खाना खिलाना पसंद करती थीं”। लता मंगेशकर के जाने के बाद साइरा बानू किसी से भी बात नहीं करतीं वो अब अपने में ही गु’म रहती हैं।

error: Content is protected !!