जब हम छोटे थे तो हमारे पेरेंट्स हमें कहते थे कि न्यूज़ चैनल देखा करो, इससे जीके मज़बूत होती है. हमने देखे भी लेकिन अब जबकि हम बड़े हो गए हैं तो जो कुछ हम न्यूज़ के नाम पर देखते हैं वो तो ऐसा है कि बच्चे बिलकुल न देखें. किसी गुं’डे ब’दमाश की तरह अपने स्टूडियो में ची’ख़ते, किसी ग’ब्बर सिंह की तरह फ़ैसला सुनाते, किसी पा’गल कु’त्ते की तरह फ़िल्म एक्टर्स की कार का पी’छा करते मी’डिया के लोग टीवी में नज़र आते हैं. ये लोग किसी भी अच्छे-बु’रे इंसान को ट्रो’ल कराते हैं, ये इनका रोज़ का काम है.

सबसे चिं’ता की बात तो ये है कि जो सबसे ज़्यादा गं’दा है उसकी टीआरपी सबसे ज़्यादा है. सुशांत की क’थित सु’साइड केस में मीडि’या ने जो रूचि दिखाई और फिर कैसे उस मामले में सुशांत की प्रेमिका रिया चक्रवर्ती को ज़’लील किया जाने लगा, मी’डिया ट्रा’यल चलने लगा. रिया अपना पक्ष रखे तो ग़लत न रखे तो घर में घु’से जा रहे हो.. रिया और रिया के परिवार सभी को इस मामले में तभी राहत मिली जब रिया आख़िर गिर’फ़्तार हो गईं.

रिया लेकिन सुशांत केस में गि’रफ़्तार नहीं हुईं, वो गिर’फ़्तार ड्र’ग्स के एक मामले में हुईं और ये भी रिपोर्ट में आया कि उन्होंने सुशांत के लिए ड्र’ग्स ख़रीदी थी. दिलचस्प ये है कि सुशांत के लिए ड्र’ग्स ख़रीदी लेकिन मीडि’या में से किसी ने सुशांत को ड्र’ग अ’डिक्ट नहीं कहा बल्कि रिया को ही कहा. मीडि’या-ट्रा’यल ने रिया और कुछ लोगों को जे’ल में ड’लवा दिया था. परन्तु बात यहीं पर ख़त्म नहीं हो सकती थी, मी’डिया को ख़ू’न लग चुका था.


यही कारण है कि मी’डिया ने अब कैम्पेन दूसरे एक्टर्स के ऊपर चलाना शुरू किया. मामला कँगना रानौत के हमदर्द बनने का आया और शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार को गाली देने का आया. महाराष्ट्र सरकार गिराने की औक़ात शायद मी’डिया की नहीं इसलिए उसने अपना फ़ोकस शिफ्ट किया. इस बीच अनुराग कश्यप के ऊपर एक अनजान अभिनेत्री पायल घोष ने यौ’न शोष’ण के गं’भीर आरो’प लगाये. कश्यप लगातार मी’डिया और कँगना रानौत के ख़िला’फ़ बोल रहे थे. अनुराग के मामले पर मीडि’या ने बहुत इंटरेस्ट नहीं दिखाया, उसकी वजह शायद ये थी कि ये मामला उसे उतनी TRP नहीं दे रहा था.

उसे कुछ और चाहिए थे और उसको एक नया एंगल ड्र’ग्स केस में ही मिला और उसने तीन साल पुरानी कथित व्हाट्सएप चैट के आधा’र पर दा’वा किया कि दीपिका पादुकोण, रकुल प्रीत सिंह, श्रद्धा कपूर, और सारा अली ख़ान जैसे लोग ड्र’ग्स लेते हैं. दीपिका को सोशल मीडि’या पर ज़बरदस्त ट्रो’ल किया जाने लगा, ऐसे लोग जो अपने करीयर में कुछ नहीं कर पाए आकर कहने लगे कि दीपिका ऐसी है वैसी है. NCB भी जैसे मी’डिया के इशा’रे पर काम कर रही है या फिर NCB के ही अधिकारी पहले सूचनाएँ लीक करते हैं, स्टार्स के ख़िला’फ़ माहौ’ल बनवाते हैं और फिर गिरफ़्ता’री होती है.

इस सब के बीच जो चैनल सबसे गं’दा है वो और नीचे गि’र-गि’रकर टीआरपी ऊपर करता जा रहा था. NCB ने दीपिका पादुकोण, सारा अली ख़ा’न और श्रद्धा कपूर को समन भेजा और अब ये लोग जाँ’च के लिए बुलाये गए हैं. और मीडिया ये भी भूला हुआ है कि इस समय कोरो’ना वाय’रस चल रहा है, पत्रकार सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो नहीं कर रहे हैं लेकिन स्टार्स भले जाँच के लिए बुलाये जा रहे हों पर वो सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो कर रहे हैं. अभी ये सब चल ही रहा है कि कोई करण जौहर की पुरानी पार्टी के बारे में बताने लगा कि उसको लेकर भी जाँच हो रही है. NCB ने तो ऐसा कुछ नहीं कहा है लेकिन मीडिया कह चुका है तो अब आगे क्या होगा ये आप समझ ही रहे हैं.