बॉलीवुड में ऐसी कई फ़िल्में होती हैं जो लोगों की चहेती होती हैं लेकिन एक फ़िल्म ऐसी है जो 25 सालों से लोगों के दिलों पर राज किए हुए हैं। जी हाँ हम बात कर रहे हैं आपकी और हमारी फ़ेवरेट फ़िल्म ‘दिलवाले दुल्हनियाँ ले जाएँगे’ की। एक ऐसी फ़िल्म जिसने लोगों को न सिर्फ़ प्यार करना सिखाया बल्कि उस प्यार को पाने के लिए उस प्यार की इज़्ज़त करना भी सिखाया। आम से लगने वाले सिमरन और राज हमें आसपास देखने मिल जाते हैं उनकी यही सादगी हमारे दिलों में बस गयी है। इस फ़िल्म से जुड़ी कई ऐसी बातें हैं जो हर फ़ैन को पता ही होनी चाहिए तो चलिए जानते हैं फ़िल्म से जुड़ी कुछ अनजानी बातें।

DDLJ आने के बाद से शाहरुख ख़ान राज के किरदार में हम सभी को जँच गए लेकिन आपको पता है ये किरदार शाहरुख से पहले आमिर, सलमान और सैफ़ को ऑफ़र हुआ था जिन्होंने भी इसे ठुकरा दिया था जैसा कि शाहरुख ने किया। आपने बिलकुल सही पढ़ा पहले शाहरुख भी राज का किरदार नहीं करना चाहते थे क्योंकि उन्हें ये किरदार काफ़ी गर्लिश लगा था लेकिन बाद में आदित्य चोपड़ा के कहने पर उन्होंने इसे स्वीकार लिया और उन्हें बाद में लगा कि राज का किरदार 90% उनसे मिलता जुलता है। यही नहीं बाद में शाहरुख ख़ान ने फ़िल्म के एक पोस्टर में ये लिखकर साइन किया था कि “मुझे स्टार बनाने के लिए शुक्रिया” ये पोस्टर आज भी यशराज फ़िल्म्ज़ में लगा है।

Shahrukh Khan
अगर आपको लगता है कि आप DDLJ के सबसे बड़े फ़ैन हैं तो हम आपको बता दें कि राजश्री फ़िल्म्ज़ के सूरज बडजात्या आपको कड़ी ट’क्कर दे सकते हैं क्योंकि वो इस फ़िल्म को हर हफ़्ते एकबार देखते हैं और जब उनकी कोई भी नयी फ़िल्म शुरू होने वाली होती है तब भी वो DDLJ देखते हैं। वैसे सबसे ज़्यादा बार तो इस फ़िल्म को दर्शकों ने भी सिनेमाघर में देखा है तभी तो इस फ़िल्म के 1000 से ज़्यादा शोज़ हुए मुंबई के मराठा मंदिर सिनेमाहॉल में भी पिछले 25 सालों से DDLJ का एक शो तो होता ही है।

दिल वाले दुल्हनिया ले जाएँगे में सिमरन एक बार टावेल में तो एक बार छोटे से वाइट स्कर्ट में नज़र आती हैं। दरअसल वो पहले इन दोनों ही कपड़ो के लिए तैयार नहीं थीं लेकिन उन्हें आदित्य चोपड़ा ने कन्वेनस किया। स्कर्ट जब आयी थी तब वो लम्बी नज़र आ रही थी जिसके कारण डिज़ाइनर मनीष मल्होत्रा ने उसे काटा और वो ज़्यादा ही छोटी हो गयी। काजोल से जुड़ी एक और ख़ास बात इस फ़िल्म में है कि उन्हें ये भी नहीं बताया गया था कि ‘रुक जा ओ दिल दीवाने’ गाने के अंत में शाहरुख उन्हें गि’राने वाले हैं।

Kajol- Shahrukh
इस फ़िल्म में परमीत शेट्टी वाला किरदार पहले अरमान कोहली को ऑफ़र किया गया था लेकिन उन्होंने विलेन का किरदार करने से म’ना कर दिया था और सीधे राज का किरदार करने की बात रखी जिसे आदित्य चोपड़ा ने ठुकरा दिया और बाद में ये किरदार परमीत शेट्टी को मिला। इस फ़िल्म से ही करन जौहर पहली बार बड़े परदे पर भी नज़र आए थे और इस फ़िल्मके बाद जब उन्होंने ‘कुछ कुछ होता है’ फ़िल्म बनायी तो भी उन्होंने शाहरुख और काजोल की जोड़ी बनायी।

आदित्य चोपड़ा पहले इस फ़िल्म के लिए टॉम क्रूस को लेना चाहते थे लेकिन यश चोपड़ा इस बात के लिए राज़ी नहीं हुए और ये फ़िल्म शाहरुख ख़ान को मिली। शाहरुख को जब इस फ़िल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फ़िल्म फ़ेयर मिला तो आमिर ने तभी से अवार्ड शो से किनारा कर लिया क्योंकि उन्हें लगा कि उन्हें रंगीला के लिए अवार्ड मिलना चाहिए था न कि शाहरुख को। इस फ़िल्म ने कई नए रीकॉर्ड्ज़ भी बनाए जैसे कि ये एक ऐसी फ़िल्म थी जिसंकी मेकिंग दूरदर्शन में दिखायी गयी थी। इस फ़िल्म से TV में शांति का किरदार निभाने वाली मंदिरा बेदी ने फ़िल्मी दुनिया में क़दम रखा था।

Shahrukh and Kajol in DDLJ
फ़िल्म DDLJ वो पहली फ़िल्म है जिसमें क्रेडिट में टाइटल सजेस्ट करने का क्रेडिट भी दिया गया ये क्रेडिट किरण खेर के नाम पर है वैसे ये टायटल भी पहले आदित्य चोपड़ा ने रीजे’क्ट कर दिया था क्योंकि उस समय छोटे नामों का दौर था लेकिन यश चोपड़ा के कहने पर आदित्य इस नाम के साथ ही फ़िल्म बनाने को तैयार हो गए। फ़िल्म में किरण के पति अनुपम खेर शाहरुख के पिता का किरदार निभाते नज़र आते हैं। शाहरुख के फ़े’ल होने पर जब अनुपम खेर का किरदार उन्हें पूर्वजों का नाम बताता है वो सराएँ नाम अनुपम खेर के वास्तविक रिश्तेदारों के हैं।

वैसे अनुपम भी पहले अमरीश पुरी का किरदार निभाना चाहते थे लेकिन आदित्य चोपड़ा ने उन्हें मना कर दिया। पर आप इस बात से म’ना नहीं कर पाएँगे कि चुग़लीबाज़ आपको देता है बॉलीवुड से जुड़ी नयी पुरानी ख़बरें मनोरंजक तरीक़े से। आगे भी लाते रहेंगे आपके लिए ऐसे ही क़िस्से और फ़िल्मी बातें जुड़े रहिए चुग़लीबाज़ के साथ। हम भी आपसे DDLJ के स्टाइल में यही कहेंगे कि अगर आपको हमारी ख़बरें पसंद आती हैं तो आप पलटकर ज़रूर आयेंगे…पलट..पलट…पलट।