हाल ही में दीपिका की फ़िल्म छपाक रीलिज़ हुई लेकिन इस फ़िल्म के प्रमो’शन के दौरान दीपिका के JNU जाने पर इतना ब’वाल मचा कि लोगों ने उनकी फ़िल्म को बायकॉ’ट करने की बात कही। फ़िल्म ने बहुत ज़्यादा कमाई तो दर्ज नहीं की लेकिन इस तरह के सामाजिक मु’द्दों पर बनी फ़िल्मों के मुक़ा’बले दीपिका की फ़िल्म ने अच्छी कमाई द’र्ज की।

दीपिका ने वैसे तो न JNU में कुछ कहा था और न ही वो इस माम’ले पर बाद में कुछ बोलीं लेकिन उनसे विरो’ध का दौ’र बरक़’रार रहा। यहाँ तक कि लोगों ने फ़िल्म रेटिंग साइट IMBD में भी दीपिका की फ़िल्म को जानबूझकर कम रेटिंग दिया। जिससे फ़िल्म छपाक की रेटिंग IMBD में 4.6 है। जब हाल ही में दीपिका से इस बारे में स’वाल किया गया तो दीपिका ने सभी ट्रो’लर्स को एक ही जवाब दिया। दीपिका ने कहा “उन्होंने मेरी आएमडीबी (IMDB) रेटिंग बदली है, मेरा मन नहीं”

Lakshmi Agrawal- Dipika Padukone

दीपिका का ये अन्दाज़ उनकी फ़िल्म छपाक के एक डायलॉग से प्रेरित था। फ़िल्म के डायलॉग में वो मालती के किरदार में कहती हैं “उन्होंने मेरी शक्ल बदली है, मेरा मन नहीं”। दीपिका ने इस फ़िल्म में ए’सिड अ’टैक सरवाइवर लक्ष्मी अग्रवाल का किरदार निभाया था। लक्ष्मी अग्रवाल पर एक युवक ने उस वक़्त ते’ज़ाब डाल दिया था जब लक्ष्मी ने उससे शादी करने से म’ना किया था।

लक्ष्मी ने ऐसिड अटैक के बाद काफ़ी लम्बी ल’ड़ाई ल’ड़ी और उन्होंने खुलेआम ते’ज़ाब बि’कने पर रो’क भी लगवायी। लेकिन इस फ़िल्म के प्रमो’शन के दौरान दीपिका ने कुछ दुकानों से लोगों को बिना पूछताछ ए’सिड ख़रीदते दिखाया। दीपिका इस फ़िल्म के ज़रिए फ़िल्म निर्माण में भी क़द’म रख चुकी हैं। यही नहीं अपने पति रणवीर सिंह के साथ आने वाली फ़िल्म 83 में भी दीपिका ने निर्माण में सहयोग दिया है। ये फ़िल्म रणवीर और दीपिका की शादी के बाद साथ में पहली फ़िल्म होगी।