लंबे समय से बॉलीवुड से दूर रहने वाली एक्टरेस फ़राह नाज़ अपने ज़माने यानी 80 और 90 के दशक की जानी-मानी हीरोइन रह थीं। अपने बेहतरीन अभिनय के साथ-साथ हुआ वो अपने उसूलों पर बहुत पक्की मानी जाती थीं. मीडिया में हालाँकि ये बहुत आम था कि वो एक ग़ुस्सैल हैं. उनका एक क़िस्सा जो काफ़ी मशहूर है वो है कि उन्होंने अपने को-स्टार और अपने समय के चर्चित अभिनेता चंकी पाण्डे को थप्प’ड़ मा’र दिया था.

उस वक़्त तो इस ख़बर की पुष्टि तो नहीं हो सकी थी। फिर एक बार एक इंटरव्यू में फ़राह नाज़ ने खुद इस बारे में बात की। फ़राह ने बताया कि चंकी पांडे हमेशा ‘आई एम द मैन’ बोलकर उनकी तरफ भद्दे इशारे किया करते थे। फिर एक दिन फ़राह को ग़ुस्सा आ गया और उन्होंने चंकी पाण्डे को ‘महिला शक्ति’ का एहसास करा दिया. उन्होंने बाद में भी कहा कि अगर चंकी उनके सामने फिर ऐसी हरकत करेंगे तो वो ऐसा ही सलूक़ करेंगी. निजी जिंदगी की बात करें तो एक्ट्रेस फ़राह नाज़ जानी मानी अभिनेत्री तब्बू की बड़ी बहन हैं।

साल 1996 में फराह ने दारा सिंह के बेटे विन्दु दारा सिंह से शादी की थी। फ़राह ने बताया था कि उनकी विन्दु से पहली मुलाक़ात तब हुई थी जब वो अपनी बहन के साथ आमिर ख़ान की फ़िल्म ‘क़यामत से क़यामत तक’ देखने के लिए गईं थीं. जब उनको टिकट नहीं मिला था और फ़राह ने अपनी पहचान छुपाई हुई थी तभी अचानक तब्बू ने विन्दु को देख लिया, वो विन्दु को पहले से जानती थीं. इस तरह फ़राह की पहली मुलाक़ात विन्दु से हुई.

शादी के एक साल बाद ही 1997 में फराह ने बेटे फतेह रंधावा को जन्म दिया। लेकिन जल्द ही उनके पारिवारिक झगड़े सामने आने लगे थे। दोनों के बीच यह रिश्ता कुछ ही साल टिक पाया और 2003 में तलाक़ हो गया। फ़राह ने सुमित सहगल से दूसरी शादी कर ली थी. उनका अपनी पहली शादी से एक बेटा है और वह अब मुंबई में परिवार के साथ अपना जीवन व्यतीत कर रहीं हैं। फ़राह एक समय इतनी पॉपुलर थीं कि उनके यहाँ प्रोडूसर की लाइन लगती थी. जब वो अपने करीयर के चरम पर थीं तभी उन्होंने विन्दु से शादी कर ली थी.

सबसे ख़ास बात ये है कि विन्दु तब स्ट्रगल ही कर रहे थे जबकि फ़राह एक स्टार थीं. फ़राह ने विन्दु को उनकी पहली बतौर हीरो फ़िल्म ‘करण’ के लिए बहुत सपोर्ट किया लेकिन फ़िल्म बुरी तरह पि’ट गई. उनके क़रीबी मानते हैं कि फ़राह की तमाम कोशिशों के बाद भी विन्दु अपनी ईगो को कम नहीं कर पा रहे थे और ये नहीं मान पा रहे थे कि वो फ़िल्मी दुनिया में बतौर हीरो कामयाब नहीं हो सकते. आख़िरकार, फ़राह नाराज़ हो गईं और अपने बेटे फ़तेह रंधावा को लेकर अलग रहने लगीं. ऐसे में जबकि फ़राह इंतज़ार कर रहीं थीं कि विन्दु उन्हें मनाने आएँगे, विन्दु के अफ़ेयर्स की चर्चाएँ होने लगीं. दोनों में तलाक़ हो गया. इस मौक़े पर सुमित सहगल उनके साथ बने और दोनों ने नई ज़िन्दगी की शुरुआत की.