बेटे अभिषेक से जब हो गए थे पिता नारा’ज, “मैं इतनी मे’हनत से पैसे कमाता हूं और तुम…”

को’रो’ना का’ल के बाद जबसे सिनेमाघर खुले हैं तब से फिल्मों की बौछार हो रही है। कोई एक फिल्म रिलीज होने के कुछ ही दिनों के बाद दूसरी फिल्म रिलीज हो रही है। बता दें कि इन दिनों कई सितारों की फिल्म रिलीज हो चुकी हैं और जल्द ही कई और सितारों की फिल्में रिलीज होने वाली हैं। गोरतलब हैं कि बॉलीवुड एक्टर अभिषेक बच्चन की भी एक नई फिल्म जल्दी ही सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है। जिसको लेकर वह काफी समय से चर्चा में हैं। इस फिल्म का नाम दशमी रखा गया है और इसमें अभिषेक के साथ यामी गौतम भी मुख्य किरदार में नजर आने वाली हैं।

बता दें कि हाल ही में अभिषेक बच्चन ने बचपन का एक ऐसा किस्सा सुनाया है जिसको सुनने के बाद आप भी है’रान हो जाएंगे। ये किस्सा उनके बचपन का है जब वह स्विट्जरलैंड के बो’र्डिंग स्कूल में चले गए थे। एक इंटरव्यू के दौरान अभिषेक से उनकी पढ़ाई को लेकर सवाल किए गए, जिसमें उन्होंने बताया कि जब उनके मार्क्स ख’राब आते थे तो वह अपना रिपोर्ट कार्ड छु’पा लिया करते थे।

उन्होंने बताया कि एक बार उनके पिता के हाथ उनका रिपोर्ट कार्ड लग गया था। इस बारे में बात करते हुए अभिषेक ने कहा कि “मैं डाकिये का इंतजा’र करता था और सोचता था कि रिपोर्ड कार्ड मिलते ही मैं इसे छु’पा दूंगा। तब तक इसे छुपाकर रखूंगा जब तक वापस स्विट्जरलैंड नहीं चला जाता। लेकिन एक दिन घर के इंटरकॉम में पापा का फोन आया। उनके पास मेरा रिपोर्ट कार्ड था।”

अभिषेक ने आगे बताया कि “वो अपनी स्टडी में बैठकर उसे जोर से पढ़ रहे थे। मेरे मन में ख्याल आ रहे थे कि उन्हें मेरा रिजल्ट कार्ड कैसे मिला? क्या उन्होंने डाकिये को रि’शवत दी होगी? क्या वो मुझसे पहले जाग गए थे?” इस बीच उनसे एक और सवाल पूछा गया। जिसका उन्होंने बड़ी ही आसानी से जवाब दे दिया। अभिषेक से पूछा गया कि जब उनके ख’राब ग्रेड आते थे तो उन्हें डां’ट पड़ी है?

इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि “वा’ट तो नहीं लगी लेकिन बैठ कर समझाया गया है कि देखो बेटा, हम इतना संघ’र्ष करके पैसा कमाते हैं, मेहनत करके पढ़ा-लिखा रहे हैं। इसका ये मतलब नहीं है कि तुम उधर मस्ती करो। तुम्हें जिम्मेदार बनना होगा। मेरे पिता ने मुझपर कभी हाथ नहीं उठाया, ना ही ऊंची आवाज में बात की। और इसकी कभी जरूरत भी नहीं पड़ी। वो बस आराम से बोलते थे और पूरे घर को समझ आ जाता था।”

desk

desk

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!