इन दिनों कोरो’ना संक्र’मण के चलते सभी अपने- अपने घरों में बं’द हैं क्या आम इंसान क्या सेलेब्रिटी सभी को अपने घरों में रहना पड़ रहा है। ऐसे में कई सेलेब घर का काम करते नज़र आए तो कई अपने भू’ले हुए शौ’क़ को वापस जी रहे हैं चाहे वो कूकिंग हो या पेंटिंग। कई ऐसे सेलेब भी हैं जो इन दिनों पेमें’ट को लेकर चिं’तित हैं और उन्हें ये भी बात स’ता रही है कि काम वाप’स शुरू होने के बाद किस तरह से सब मैने’ज किया जाएगा। ऐसे समय में एक ऐक्ट्रेस हैं जो इस समय को एक अलग तरह से जी रही हैं। हम बात कर रहे हैं अंग्रेज़ी मीडियम की स्टार राधिका मदान की।

राधिका मदान इन दिनों अके’ले ही मुंबई में रह रही हैं उनके माता-पिता उनसे दू’र हैं। राधिका कहती है कि वो अके’ले भी अच्छी तरह से हैं और वो इस समय का भरपू’र प्रयो’ग अपने आप को जा’नने में कर रही हैं। राधिका ने कहा कि उन्हें ये समझ आया है कि जिन चीज़ों को हम ज़रूरी समझते हैं वास्तव में उनका कोई मतलब ही नहीं है। जबकि वो अस्था’यी और क्ष’णभं’गुर हैं वो चाहे पैसा हो या प्रसिद्धि। आ’ख़िर हम सभी एक हैं चाहे वो दुनिया का सबसे अमीर इंसा’न हो या ग़रीब सभी को इम्यू’निटी पर काम करना पड़ रहा है और हाथ धो’ना पड़ रहा है।

Raadhika Madaan
राधिका का कहना है कि इन दिनों में उन्हें कई बातें समझ आयी हैं जैसे कि सबसे बड़ी सीख कि दुनिया में भोजन कितना ज़रूरी है और इस बुनिया’दी ची’ज़ का आ’ख़िर क्या मूल्य होता है। हम कितने ख़ु’शन’सीब हैं कि हमें हर दिन खाना मिल रहा है जबकि कितने हैं जिनके पास खाना तक नहीं है। यही नहीं अपनों की और परिवा’र के लोगों की क़ीम’त भी हमें समझ आयी है। हमारी प्राथमि’कता है हमारा स्वास्थ्य और हमारा परिवा’र। मुझे इन दिनों में कई बातें समझ आयी हैं और मैं अब कभी अपनी प्राथमि’कता ग़ल’त नहीं चु’नूँगी।

राधिका ने कहा कि वो ख़ुद से प्यार करती हैं और अपने साथ मिल रहा ये वक़्त एंजॉय कर रही हैं। वो रोज़ कुछ न कुछ नया सीख रही हैं, वो अपने पौधों को पानी देती हैं प्रकृति से जु’ड़ती हैं। योग करती हैं, पियानो बजाती हैं। लिखती- पढ़ती हैं। उनका कहना है सिर्फ़ एक ही चीज़ बा’धा है वो है घर से बाह’र न निक’ल पाना। बता दें लॉ’कडा’उन शुरू होने के पहले शुक्रवार को ही उनकी फ़िल्म अंग्रेज़ी मिडियम री’लिज़ हुई थी और इसका अस’र उसकी क’माई पर पड़ा। उनके को- ऐक्टर इरफ़ान का भी हाल ही में नि’धन हुआ है।