मुम्बई: कहते हैं कभी-कभी इंसान इस सोच में पहुँच जाता है कि बात जो भी हो वो अपने मूड में ही रहता है. पिछले कुछ समय से बॉलीवुड में जाने क्या कुछ चल रहा है. शायद फ़िल्मों के अलावा सभी कुछ चल रहा है. कई बार ऐसा होता है कि हम फ़िल्में देखते हैं और कोई शब्द म्यूट कर दिया जाता है.. तो आज बॉलीवुड से जुड़े लोग कुछ इसी तरह की हरकतें कर रहे हैं कि कुछ वक़्त के लिए उनको बोलने दो जो बोल रहे हैं, आप बस अपनी दुनिया संभालो.

पिछले कुछ महीनों में कँगना रानौत ने सोशल मीडिया और मीडिया में इतना कुछ बोला है कि अगर वो कुछ रोज़ न भी बोलें तो चल जाएगा. सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद जो बहस शुरू हुई उसमें आगे बढ़ते हुए अब वो उसको व्यक्तिगत बना चुकी हैं. पहले भी ऐसा देखा गया है कि कँगना उन लोगों को बिलकुल पसंद नहीं करतीं जो उनकी आलोचना कर देते हैं. कंगना के बारे में कहा जाता है कि वो ख़ुद कुछ भी कहें लेकिन कोई उन्हें कुछ न कहे.
Kangana’s Office[/caption]
बुरा ही नहीं कभी-कभी अगर कंगना को कोई अच्छा कह दे तो भी वो बुरा मान जाती हैं. आपको यक़ीन नहीं हो रहा तो सोनम कपूर का एक ट्वीट पढ़ें. इस ट्वीट में सोनम ने बीएमसी के उस एक्शन की आलोचना की थी जिसमें कँगना का ऑफिस तोड़ डाला गया था. अब कँगना ने इसका क्या मतलब निकाला आप पढ़ें कँगना का ट्वीट-“माफ़िया बिंबो ने अचानक मेरे घर की त्रासदी के माध्यम से रिया जी के लिए न्याय मांगना शुरू कर दिया है. मेरी लड़ाई लोगों के लिए है. मेरे संघर्षों की तुलना किसी स्मॉल टाइम ड्रगी से न करें, जो अपने दम पर स्टार बने शख्स के टुकड़ों पर पल रही थी. ऐसा करना बंद करें.”

सोनम कपूर का ट्वीट अगर देखेंगे तो कुछ यूँ था,”आँख के बदले आँख से तो पूरी दुनिया अंधी ही हो जाएगी.” सोनम ने अभिनेत्री दीया मिर्जा के एक ट्वीट पर अपना यह कमेंट दिया था. दीया मिर्जा ने ट्वीट किया, ‘कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ की निंदा करती हूं. रिया के खिलाफ उत्पीड़न और दुर्व्यवहार की निंदा करती हूं. मैं यहां किसी का पक्ष नहीं ले रही हूं, जो सही है उस पर अपनी बात रख रही हूं. याद रखें कि ऐसा आपके साथ भी हो सकता है.”


दिलचस्प ये भी है कि कँगना के रिएक्शन पर सोनम कपूर ने कोई टिपण्णी ही नहीं दी. इसको ऐसे भी देखा जा रहा है कि अब इंडस्ट्री के बहुत से लोगों ने कँगना को सीरियस लेना छोड़ दिया है.