मुम्बई: पिछले कुछ समय से बॉलीवुड को बदनाम करने का एक चलन शुरू हो गया है. इसमें मीडिया का एक समूह लगातार काम कर रहा है. सुशांत सिंह राजपूत की मौ’त का फ़ायदा उठाते हुए बहुत से लोगों ने ऐसी ऐसी बातें कही हैं जिसका न कोई ओर है न छोर. मीडिया अपनी टीआरपी बढ़ा रहा है और सोशल मीडिया पर लोग अपने फॉलोवर्स बढ़ा रहे हैं तो कुछ अपने राजनीतिक भविष्य की संभावनाएँ नोट कर रहे हैं.

इस पूरे मामले पर नाराज़गी जताते हुए आज सपा सांसद जया बच्चन ने अपना पक्ष रखा और उन सभी लोगों को फटकार लगाई जो बॉलीवुड को बदनाम कर रहे हैं. भाजपा सांसद और अभिनेता रवि किशन की शब्दावली पर सवाल उठाते हुए जया ने कहा था,”कुछ लोगों की वजह से, आप पूरी इंडस्ट्री की छवि ख़राब नहीं कर सकते हैं. मुझे कल बहुत बुरा लगा जब लोकसभा के एक सदस्य, जो खुद इंडस्ट्री से ताल्लुक़ रखते हैं, ने फिल्म इंडस्ट्री के बारे में ख़राब बोला. जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं.”

ये तो सभी जानते थे कि जया बच्चन के बयान पर कँगना रानौत की ओर से कोई न कोई टिप्पणी तो आनी ही है. आमिर ख़ान का फ़ेक इंटरव्यू शेयर कर चुकीं कँगना रानौत सोशल मीडिया पर कब क्या कह दें कोई नहीं कह सकता. जया बच्चन के बयान पर कँगना ने उनके परिवार को भी घसीट लिया है. अपने ट्वीट में कँगना ने जया बच्चन के बेटे अभिषेक बच्चन को भी घसीटा और बेटी श्वेता को भी.

कंगना ने कहा है,”जया जी क्‍या आप तब भी यही कहतीं अगर मेरी जगह पर आपकी बेटी श्‍वेता को किशोरावस्था में पीटा गया होता, ड्र’ग्‍स दिए गए होते और शोषण होता. क्‍या आप तब भी यही कहतीं अगर अभिषेक लगातार धमकियां और शोषण की बात करते और एक दिन फांसी से झूलते पाए जाते? थोड़ी हमद’र्दी हमसे भी दिखाइए,” कँगना के इस बयान की आलो’चना शुरू हो गई है. लोगों का कहना है कि जैसे ही कोई कँगना के विचारों से अलग होता है वो किसी के परिवार पर इस तरह की टिपण्णी करती हैं या फिर मुम्बई को ही पीओके बताने लगती हैं. हालाँकि अब तो कँगना को बॉलीवुड के ही लोग सीरियसली ले भी नहीं रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *