कोरो’ना का’ल ने बॉलीवुड को काफ़ी नुक़’सान प’हुँचाया है काम के मामले से लेकर अपनी जा’न लेने की ख़बरें भी कई सु’नने मिलीं। कई ऐक्टर्स ने ख़ु’दकुशी की और अपने फ़ैन्स को सवा’लों में छो’ड़ गए। इसमें सबसे ज़्यादा च’र्चित रहा सुशांत सिंह राजपूत का सुसा’इड जिसे काफ़ी दिनों तक म’र्डर कहकर जाँ’च भी करवायी गयी लेकिन बाद में ये एक सुसा’इड केस ही निकला जिसे मानसि’क परेशा’नी से सम्बं’धित माना गया। सुशांत के जा’ने के बाद सभी जगह मान’सिक स्वास्थ की च’र्चा आम होने लगी और लोग इस ओर जागरूक होने लगे क’म से क’म बातें तो होने ही लगीं।

सुशांत के को ऐक्टर अमित साध ने भी इस तरह की एक बात बतायी है जो लोगों के लिए चौं’काने वाली हैं उन्होंने बताया कि 16 से 18 साल की उम्र में उन्होंने चार बार आ’त्मह’त्या की कोशिश की है। अमित साध को सुशांत की फ़िल्म काई पो छे, सुल्तान, गोल्ड, शकुंतला देवी जैसी फ़िल्मों में देखा जा चुका है। उन्होंने इस बात के साथ ये भी बताया कि भले ही उन्होंने चार बा’र आ’त्मह’त्या की कोशिश की थीं लेकिन उनके म’न में कभी आ’त्मह’त्या करने जैसे वि’चार नहीं थे।

Amit Shad with Salman
अमित ने अपने एक इंट’रव्यू में कहा कि,” 16 से 18 साल की उम्र के बीच मैंने चार बार आ’त्मह’त्या करने की कोशिश की। मेरे अंदर सु’साइडल विचार नहीं थे लेकिन बस मैं सु’साइड करना चाहता था। कोई प्ला’निंग नहीं की बस एक दिन उठा और बार-बार ख़ुद की जा’न लेने की कोशिश करने लगा। भगवान की कृपा से चौथी बार को’शिश करने के बाद मुझे समझ आ गया कि ये रास्ता नहीं है न ही ये अं’त है। उसके बाद चीज़ें बदल सी गयीं मैंने कभी हार न मानने का फ़ै’सला कर लिया और आज मैं यहाँ हूँ।”

आगे अमित ने कहा,”एक बड़े एक्टर ने मेरी ए’क्स-गर्लफ्रें’ड को कहा था कि ये पा’गल है इसको साइ’का’इट्रिस्ट के पास लेकर जाओ। तब मैंने कुछ नहीं कहा लेकिन जब मैं उस एक्टर से दो साल बाद मिला तो मैंने उनसे कहा कि सर मैं पाग’ल नहीं हूँ, मैं एकदम ठीक हूँ.. हो सकता है कि मैं ज्यादा इमो’शनल हूँ या मुझमें दूसरे इ’श्यूज़ हों। मैं अके’लापन महसूस करता हूँ या परे’शान रहता हूँ लेकिन मैं पा’गल नहीं हूँ, मेरा दिमा’ग़ बिल्कुल ठीक है। अमित साध फ़िल्मों के साथ-साथ वेबसी’रिज़ में भी नज़र आते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *